Crictoday Hindi.

5 बड़े क्रिकेटर, जो उपलब्ध थे पर टेस्ट ड्यूटी छोड़ दी और नहीं खेले बच्चे के जन्म की वजह से

CT Contributor Updated: 16 July, 2020, 10:38 AM IST

वेस्टइंडीज ने सॉउथम्पटन टेस्ट में इंग्लैंड को हराया तो इंग्लैंड टीम की बागडोर बेन स्टोक्स के हाथ में थी जो वास्तव में सिर्फ स्टॉप गैप कप्तान थे। तो नियमित कप्तान जो रुट कहां थे? वे उपलब्ध तो थे पर  ECB से ख़ास तौर पर इजाजत ली कि चूंकि टेस्ट के दिनों में ही उनकी पत्नी बच्चे को जन्म देने वाली है इसलिए टेस्ट नहीं खेलेंगे और पत्नी के पास रहेंगे। उन्हें तो इजाज़त मिल गई पर इंग्लैंड ने इसकी बड़ी कीमत चुकाई और टेस्ट हार गए।

बच्चे के जन्म के लिए टीम की ड्यूटी छोड़ देने की ये परम्परा हाल के सालों में बढ़ती जा रही है। पहले के क्रिकेटर टूर या सीरीज के बीच ऐसी तारीख आ जाने पर न तो छुट्टी मांगते थे और मांगते भी थे तो मिलती नहीं थी। MDS 2015 वर्ल्ड कप की तैयारी की ड्यूटी पर थे और अभी मैच शुरू नहीं हुए थे। जीवा के जन्म के लिए छुट्टी मांगते तो मिल भी जाती पर टीम की तैयारी को वे बिगाड़ना नहीं चाहते थे और कई ने ऐसा नहीं सोचा। टीम ड्यूटी को छोड़ा और पत्नी के साथ थे।

1. रोहित शर्मा : 2018-19 के ऑस्ट्रेलिया टूर में रोहित शर्मा को अपने आपको टेस्ट टीम में नियमित जगह का हक़दार साबित करने का बहुत अच्छा मौका मिला। एडिलेड और मेलबर्न टेस्ट खेले। मेलबर्न में टेस्ट जीतने में उनके दूसरी पारी के 63* बड़े कीमती साबित हुए थे। तब भी उन्होंने टेस्ट सीरीज को बीच में छोड़ दिया, भारत लौट आए, क्योंकि उनकी पत्नी बच्चे को जन्म देने वाली थी। रोहित शर्मा को अगला टेस्ट खेलने के लिए कई महीने इंतज़ार करना पड़ा।

2. नासिर हुसैन : वे भी जो रुट की तरह कप्तान थे इंग्लैंड के। बात है 2002-03 के ऑस्ट्रेलिया के एशेज टूर की। वे तो बच्चे के जन्म के लिए गर्भवती पत्नी को ही टूर पर साथ ले गए ताकि टूर के बीच से न लौटना पड़े। सीरीज का ब्रिस्बेन में पहला टेस्ट पत्नी की ड्यूटी के लिए छोड़ दिया। इंग्लैंड की कप्तानी की एलेक स्टुअर्ट ने और इंग्लैंड बुरी तरह से 384 रन से हारा। हुसैन ने दूसरे टेस्ट से ड्यूटी संभाल ली। विशेषज्ञ कहते हैं कि हुसैन ने शुरुआत बिगाड़ दी और इंग्लैंड सीरीज को 4-1 से बुरी तरह हारा।

3. सीन विलियम्स : इस साल जब बंगलादेश टूर पर आई ज़िम्बाब्वे टीम तो नियमित टूर पर कप्तान सीन विलियम्स थे। उन्होंने बच्चे के जन्म की वजह से सीरीज का एकमात्र टेस्ट छोड़ दिया और उनकी जगह कप्तानी की क्रेग इर्विन ने। हालांकि, स्टॉप गैप कप्तान इर्विन ने पहली पारी में शतक बनाया पर ज़िम्बाब्वे टेस्ट को पारी के अंतर से हारा। विलियम्स की कमी बड़ी महंगी पड़ी।

4. फॉफ डू प्लेसी : 2017 में दक्षिण अफ्रीका की टीम इंग्लैंड टूर पर आई तो कप्तान फॉफ डू प्लेसी थे पर लॉर्डस के पहले टेस्ट में कप्तानी की डीन एल्गर ने क्योंकि, फॉफ डू प्लेसी टूर के बीच से दक्षिण अफ्रीका वापस लौट गए थे। उनकी पत्नी गर्भवती थी और बच्चे को जन्म देने वाली थी। दक्षिण अफ्रीका ये टेस्ट 200 रन से ज्यादा के अंतर से हारा।

5. आदिल रशीद : 2018 में टेस्ट टीम में आने के बाद उनका करियर बड़ा अच्छा चल रहा था। 2019 के वेस्टइंडीज के विरुद्ध ब्रिजटाउन के पहले टेस्ट तक लगातार 9 टेस्ट खेल चुके थे। तब भी आदिल ने सीरीज में आगे की ड्यूटी से छुट्टी मांग ली। इंग्लैंड लौट गए जहां उनकी पत्नी उनके दूसरे बच्चे को जन्म देने वाली थीं। ये छुट्टी उन्हें बड़ी महंगी पड़ी और इंग्लैंड ने उन्हें उसके बाद और कोई टेस्ट खेलने बुलाया ही नहीं। ऐसी हर छुट्टी आम तौर पर खिलाड़ी या टीम के लिए बड़ी महंगी पड़ी है।

Get Daily Updates From CricToday

Subscribe and get the latest Sports News delivered to your inbox.

अफगानिस्तानी प्लेयर मुजीब उर रहमान को हुआ कोरोना, अस्पताल में हुए भर्ती

Staff Writer Updated: 4 December, 2020, 5:48 PM IST

अफगानिस्तानी युवा प्लेयर मुजीब उर रहमान कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। जिसके बाद उन्हें गोल्ड कोस्ट हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। फिलहाल वह डॉक्टर्स की निगरानी में हैं। मुजीब उर रहमान बीबीएल का हिस्सा बनने पहुंचे थे। वह ब्रिस्बेन हीट टीम में शामिल हैं।

बिग बैश लीग में हिस्सा लेने के लिए मुजीब उर रहमान दो हफ्ते पहले अपने बाकी साथियों के साथ पहुंचे थे। उनमें जब शुरुआती लक्षण देखे गए तो उनका कोरोना टेस्ट किया गया और उसमें वह पॉजिटिव पाए गए। हालांकि वह क्वींसलैंड के नियमों के मुताबिक दो हफ्तों के लिए क्वारंटीन में थे।

इस खबर पर क्वींसलैंड क्रिकेट के चीफ टेरी सेवेंसन ने कहा, ''इस युवा खिलाड़ी की सेहत पर हम नजर बनाए हुए हैं। अस्पताल में उनका पूरा ध्यान रखा जा रहा है। इसके अलावा अधिकारियों के साथ भी हम सामंजस्य स्थापित कर रहे हैं जिससे क्रिकेटर्स को किसी भी तरह की परेशानी न हो सके।'' बिग बैश लीग के हेड एलिस्टर डोडसन के मुताबिक, ''इस सीजन में हमारी प्राथमिक जिम्मेदारी खिलाड़ियों की सुरक्षा और स्वास्थ्य है। हम पूरा सहयोग मुजीब उर और ब्रिस्बेन हीट को कर रहे हैं। हमारी ओर से यह भी सुनिश्चित किया जा रहा है कि सभी नियमों का पालन पूरी तरीके से हो।''

बीबीएल में मुजीब उर रहमान का यह तीसरा सीजन हैं। उनकी इकोनामी 18 मैचों में 6.08 प्रतिशत रही। टी-20 लीग में यह शानदार माना जाता है। रहमान के अलावा नेपाल के युवा स्पिनर संदीप लामिछाने भी कोरोना पाजिटिव पाए गए हैं। ऐसा कहा जा रहा है कि वह टीम के साथ क्रिसमस के बाद जुड़ेंगे। इन दोनों खिलाड़ियों के कोरोना पॉजिटिव होने के बाद से अब बिग बैश लीग के आयोजन पर खतरा मंडराना शुरू हो गया है।

सोशल मीडिया पर पिक शेयर करके बुरे फंसे शुबमन गिल, युवराज ने दे डाली ये नसीहत

Staff Writer Updated: 4 December, 2020, 3:48 PM IST

टीम इंडिया के युवा बल्लेबाज शुबमन गिल ने इंटरनेशनल मैच में लंबे समय बात वापसी की है। उन्होंने कंगारू टीम के खिलाफ कैनबरा वनडे में खेलते हुए 39 रन बनाए। 21 वर्षीय बल्लेबाज ने इस मैच की दो तस्वीरें सोशल मीडिया पर साझा की। इनमें से एक तस्वीर में वह कप्तान विराट कोहली के साथ दिखाई दे रहे हैं जबकि दूसरी फोटो में वह टीम के साथी खिलाड़ियों के साथ नजर आ रहे हैं।

शुबमन गिल ने अंतरराष्ट्रीय मुकाबला लगभग एक साल बाद खेला। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे वनडे में टीम इंडिया के लिए ओपनिंग गिल और धवन ने की। इससे पहले उन्होंने पिछले साल फरवरी में न्यूजीलैंड के खिलाफ वेलिंग्टन में वनडे मैच खेला था।

गौरतलब है कि भारत वनडे सीरीज 1-2 से हार गया। हालांकि तीसरे वनडे में जीत हासिल करने बाद शुबमन गिल ने अपनी खुशी व्यक्त करते हुए कुछ फोटोज सोशल मीडिया पर पोस्ट कीं। इन्हीं तस्वीरों में से एक में वह अपनी जेब में हाथ डालकर दिखाई दे रहे हैं।

शुबमन गिल को इसी तस्वीर के लिए भारतीय टीम के पूर्व स्टार ऑलराउंडर युवराज सिंह ने खास सलाह दी। युवी ने कमेंट करते हुए लिखा, ''विराट संग बल्लेबाजी बहुत अच्छी रही। महाराज, जेब से हाथ बाहर निकालो, आप भारत के लिए खेल रहे हैं, किसी क्लब के लिए नहीं।''

 न्यूजीलैंड सरकार ने नहीं दी पाकिस्तानी टीम को प्रैक्टिस करने की अनुमति, 10 खिलाड़ी मिले थे कोरोना पॉजिटिव

Staff Writer Updated: 4 December, 2020, 3:34 PM IST

इन दिनों पाकिस्तान की क्रिकेट टीम न्यूजीलैंड दौरे पर गई हुई है लेकिन वहां पर भी उनके मुश्किलें कम नहीं हो रही हैं। न्यूजीलैंड सरकार ने पाकिस्तानी टीम को प्रैक्टिस करने की अनुमति नहीं दी है। बीते दिनों पाकिस्तान की टीम के 10 खिलाड़ी कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। दरअसल न्यूजीलैंड के स्वास्थ्य विभाग को यह डर लग रहा है कि उनके देश में पाकिस्तान के यह क्रिकेटर्स कोरोना ना फैला दें। वैसे तो पिछले 10 दिनों से पाकिस्तान की क्रिकेट टीम का क्वारंटीन पीरियड जारी है। टीम के 6 खिलाड़ी कोरोना पॉजिटिव एक साथ मिले थे। इसके बाद चार ओर खिलाड़ी इस लिस्ट में पिछले दिनों शामिल हुए।

न्यूजीलैंड की हेल्थ डिपार्टमेंट ने एक बयान जारी करते हुए कहा कि अभी प्रैक्टिस करने की छूट पाकिस्तान क्रिकेट टीम को नहीं दी जाएगी। अधिकारियों का मनाना है कि उन्हें इस बात का डर है कि अगर टीम ने अपनी प्रक्टिस शुरू की तो वह कोरोना का संक्रमण अन्य खिलाड़ियों को भी दे देंगे।

पाकिस्तान के इस दौरे के तय कार्यक्रमों के अनुसार कोरोना टेस्ट के बाद टीम को तीसरे दिन से प्रैक्टिस करने की अनुमति थी। मगर जब से 10 खिलाड़ी कोरोना पॉजिटिव मिले उसके बाद से पाकिस्तानी टीम पिछले 10 दिनों से क्वारंटीन में है।

न्यूजीलैंड की तरफ से पाकिस्तानी टीम को पिछले हफ्ते ही अंतिम चेतावनी मिली थी। जिस होटल में पाकिस्तान की क्रिकेट टीम रुकी हुई है वहां की सीसीटीवी फुटेज न्यूजीलैंड सरकार को मिली। इस वीडियो में उन्होंने देखा कि खुलेआम कोरोना नियमों की धज्जियां पाकिस्तानी खिलाड़ी उड़ा रहे थे। इसके अलावा एक दूसरे के साथ बातें की और खाना-पीना भी शेयर किया।

न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड की इस धमकी पर पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने अपनी नाराजगी जाहिर की थी। शोएब अख्तर ने उलटे न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड को ही सुधरने के लिए कहा था। इसको लेकर अपने यूट्यूब चैनल पर शोएब ने कहा था कि पाकिस्तान कोई क्लब की टीम नहीं है।

 केन विलियमसन ने खेली अपने कैरियर की सर्वश्रेष्ठ पारी, वसीम जाफर ने की तारीफ

Staff Writer Updated: 4 December, 2020, 3:27 PM IST

शुक्रवार को वेस्टइंडीज के खिलाफ हैमिल्टन टेस्ट में न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने पहली इनिंग में दोहरा शतक लगाया और टीम को मजबूत स्थिति में पहुंचाया।

टेस्ट क्रिकेट में विलियमसन ने अपना तीसरा दोहरा शतक केमर रोच की गेंद पर बाउंड्री लगा कर पूरा किया। इस मैच में न्यूजीलैंड कप्तान ने अपने टेस्ट कैरियर का सर्वश्रेष्ठ स्कोर (251) बनाया। इसके बाद वह अल्जारी जोसेफ की गेंद पर रोस्टन चेस के हाथों कैच आउट हो गए। जिसके बाद न्यूजीलैंड ने अपनी पारी की घोषणा 519 रनों पर कर दी।

केन विलियमसन के लिए यह दोहरा शतक इसलिए भी खास है क्योंकि साल 2015 में उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ नाबाद 242 रनों की पारी खेली थी। इंडीज के खिलाफ इस मुकाबले के दूसरे दिन विलियमसन ने अपनी नाबाद 97 रन की पारी को 251 के स्कोर तक पहुंचाया।

भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज वसीम जाफर ने 30 वर्षीय बल्लेबाज की इस पारी की जमकर प्रशंसा सोशल मीडिया पर की और उन्हें 'GOAT' का टैग दिया। वसीम जाफर ने ट्वीट में लिखा, ''बकरियों को चराने के लिए पिच हरी थी, एक बकरी आई और सब खा गई।''

इस मैच में विलियमसन ने चार बल्लेबाजों के साथ बड़ी साझेदारी की। दूसरे विकेट के लिए टॉम लेथम (86) के साथ केन ने 154 रन जोड़े वहीं तीसरे विकेट के लिए 83 रन की पार्टनरशिप रॉस टेलर (38) के साथ की। कप्तान ने 5वें विकेट के लिए 72 रन की साझेदारी टॉम ब्लंडेल (14) के साथ की। इसके अलावा 94 रन 7वें विकेट के लिए काइल जैमीसन (51) के साथ जोड़े।

 ICC के पूर्व अंपायर ने मैक्सवेल के स्विच हिट का किया समर्थन, बोले- यह असंभव है

Staff Writer Updated: 4 December, 2020, 3:19 PM IST

ऑस्ट्रेलिया के स्टार ऑलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल के 'स्विच हिट' शॉट पर कई पूर्व दिग्गज खिलाड़ियों ने अनुचित बताया है। इस शॉट पर जहां पूर्व कप्तान इयान चैपल और पूर्व स्पिनर शेन वॉर्न ने सवाल खड़े किए तो वहीं पूर्व अंपायर साइमन टॉफेल ने मैक्सवेल का बचाव किया। टॉफेल ने कहा कि नियमों के खिलाफ मैक्सवेल का यह स्विच हिट शॉट नहीं है। भारत के खिलाफ बुधवार को कैनबरा वनडे में 32 वर्षीय ऑलराउंडर ने यह शॉट लगाया था। ग्लेन ने इस शॉट पर 100 मीटर का छक्का जड़ा था।

आईसीसी के पूर्व अंपायर साइमन टॉफेल ने ऑस्ट्रेलिया के अखबार सिडनी मॉर्निंग हेरल्ड को दिए इंटरव्यू में ग्लेन मैक्सवेल का बचाव किया। साइमन टॉफेल ने कहा, ''क्रिकेट का खेल कोई साइंस नहीं है ये एक कला है। जब हम बोलते हैं कि इन शॉट्स को बैन किया जाए तो फिर अंपायर इस बात का कैसे फैसला ले पाएगा की यह गलत है। ऐसा नहीं हो सकता। कई फैसले अंपायर को लेने होते हैं जैसे कि फ्रंट फुट, बैक फुट। कोई बल्लेबाज अपना स्टांस या ग्रिप बदल रहा है तो इसपर अंपायर का ध्यान देना असंभव है। हम ऐसे कोई नियम नहीं बना सकते जिनका इस्तेमाल नहीं हो सकता।''

स्विच हिट शॉट लगाते समय गेंदबाज के हाथ से जैसे ही गेंद निकलती है तभी दाएं हाथ से बल्लेबाज अपने बाएं हाथ में बल्ला पकड़ लेता है। मैक्सवेल ने कैनबेरा मैच में यह शॉट खेला उसी वक्त इयान चैपल ने आलोचना करना शुरू कर दी। उस दौरान इयान वाइड वर्ल्ड ऑफ स्पोर्ट्स पर कमेंट्री कर रहे थे और उन्होंने कहा कि इस स्विच हिट को बैन कर देना चाहिए।

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर ने कहा कि ''अगर कोई बल्लेबाज गेंदबाज के हाथ से गेंद छूटते ही अपने दाएं हाथ से बल्ला बाएं हाथ में पकड़ लेता है तो ये स्विच हिट शॉट अनुचित है।'' इतना ही नहीं इस शॉट को शेन वॉर्न ने भी गैरकानूनी बताते हुए बैन करने की मांग की। इसके अलावा ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज ने यह कहा कि ''इस शॉट पर बैन लगाने की कोई जरूरत नहीं है बल्कि गेंदबाज खुद को ओर बेहतर करें।''