Crictoday Hindi.

ऐसे 6 महान बल्लेबाज, जो टेस्ट क्रिकेट में कभी नंबर एक रैंकिंग हासिल नहीं कर सके

Shadab Ali Updated: 5 May, 2020, 6:02 PM IST

टेस्ट क्रिकेट में कई बल्लेबाजों ने अपनी शानदार बल्लेबाजी के बलबूते खूब वाह-वाही बटोरी. कई ऐसे हैं, जिन्होंने शानदार प्रदर्शन किया और बहुत ही कम समय में अपनी काबिलयत का लोहा मनवाया. वहीं, कुछ बल्लेबाज टेस्ट क्रिकेट में अपनी महानता का सबूत देते रहे, लेकिन आईसीसी की टेस्ट रैंकिंग में वे नंबर एक नहीं बन पाए. उनमें सनथ जयसूर्या, ग्रीम स्मिथ, केविन पीटरसन, वीवीएस लक्ष्मण जैसे दिग्गज बल्लेबाजों का नाम शामिल है.

दक्षिण अफ्रीका के पूर्व दिग्गज ग्रीम स्मिथ आज भी जहां टेस्ट क्रिकेट के सबसे सफल कप्तान हैं. वहीं, वीवीएस लक्ष्मण भी टीम इंडिया के सबसे महान टेस्ट बल्लेबाज रहे, लेकिन ये टेस्ट में कभी नंबर वन नहीं बन पाए. आज हम ऐसे ही 6 बल्लेबाजों के बारे में जानेंगे, जो क्रिकेट में शानदार बल्लेबाजी करते थे. मगर टेस्ट की रैंकिंग में वे बेस्ट नहीं बन पाए. कौन से हैं वे 6, आइये जानते हैं -

ग्रीम स्मिथ - दक्षिण अफ्रीकी टीम के पूर्व कप्तान और दिग्गज सलामी बल्लेबाज ग्रीम स्मिथ ने प्रोटियाज टीम को बहुत कुछ दिया. उन्होंने अपने मार्गदर्शन में साउथ अफ़्रीकी टीम को जीतना सिखाया. टेस्ट में स्मिथ के नाम 27 शतक हैं, जिसमें से 26 दक्षिण अफ्रीका की जीत में आए और एक शतक ड्रॉ टेस्ट में बना. स्मिथ ने 117 टेस्ट में लगभग 50 के औसत से 9265 रन बनाए. इस दौरान उनका उच्चतम स्कोर 277 रन रहा. स्मिथ ने 27 शतक के साथ 38 अर्धशतक भी जड़े. टेस्ट क्रिकेट में उन्होंने दूसरे पायदान की सबसे बड़ी रैंकिंग हासिल की. इतना ही नहीं वे टेस्ट क्रिकेट इतिहास के सबसे महान कप्तान भी हैं.

सनथ जयसूर्या - श्रीलंकाई टीम के सबसे महान बल्लेबाज सनथ जयसूर्या क्रिकेट की पिच पर किसी भी विपक्षी गेंदबाज के लिए काल बन जाते थे. वे काफी आक्रामक बल्लेबाजी शैली के लिए जाने जाते थे. टेस्ट हो या वन डे, दोनों ही प्रारूपों में उनका बल्लेबाजी अंदाज एक जैसा ही रहता था. वन डे क्रिकेट में 13430 रन बनाने वाले पूर्व सलामी बल्लेबाज ने 110 टेस्ट में भी 6973 रन बनाए, लेकिन आईसीसी की रैंकिंग में वे कभी नंबर एक की कुर्सी हासिल नहीं कर पाए. टेस्ट क्रिकेट में जयसूर्या ने 14 शतक और 31 अर्धशतक जड़े. लाल गेंद वाले क्रिकेट में उन्होंने 340 रन का अपना सबसे बड़ा स्कोर भी बनाया.

वीवीएस लक्ष्मण - टीम इंडिया के पूर्व टेस्ट स्पेशलिस्ट बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण की ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2001 में कोलकाता टेस्ट में खेली 281 रन की पारी को कौन भूल सकता है. लक्ष्मण ने कंगारुओं के विरुद्ध फ़ॉलो ओन के बाद यह शानदार पारी खेली थी, जिसकी बदौलत भारत ने टेस्ट मैच को जीत लिया था. लक्ष्मण टीम इंडिया के सर्वकालिक महान टेस्ट बल्लेबाज रहे. उन्होंने 134 टेस्ट मैचों में 8781 रन बनाए, जिसमें 17 शतक और 56 अर्धशतक शामिल हैं. लक्ष्मण अपने क्रिकेट करियर में कभी टेस्ट की रैंकिंग में सबसे बेस्ट नहीं बने.

हर्शेल गिब्स - दक्षिण अफ्रीकी टीम के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज हर्शेल गिब्स का नाम विपक्षी गेंदबाजों को कंपाने के लिए काफी होता था. अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे पहले एक ओवर में लगातार 6 छक्के जड़ने वाले गिब्स को आज भी विश्व के सबसे खतरनाक बल्लेबाजों की कतार में गिना जाता है. वन डे में 21 शतक जड़ने वाले गिब्स ने टेस्ट में भी खूब वाह-वाही बटोरी. अपनी आक्रामक शैली के लिए मशहूर रहे गिब्स ने 90 टेस्ट में 6167 रन बनाए, जिसमें 14 शतक और 26 अर्धशतक शामिल हैं. उनका सबसे बड़ा स्कोर 228 है, जो इस दाएं हाथ के सलामी बल्लेबाज ने पाकिस्तान के खिलाफ बनाया था. इस टेस्ट में उन्होंने अपने साथी सलामी बल्लेबाज ग्रीम स्मिथ के साथ मिलकर पहले विकेट के लिए 368 रन की साझेदारी निभाई थी. हालांकि, गिब्स अपने करियर में कभी आईसीसी की टेस्ट रैंकिंग में नंबर एक बल्लेबाज नहीं बने.     
 
क्रिस गेल - वन डे क्रिकेट के सबसे विस्फोटक बल्लेबाजों में से एक वेस्टइंडीज के दिग्गज सलामी बल्लेबाज क्रिस गेल को अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में खेलते हुए दो दशक से ज्यादा हो चुके हैं. उनके समय के सभी खिलाड़ी संन्यास ले चुके हैं. गेल ने 103 टेस्ट मैचों में 7214 रन बनाए हैं, जिसमें 15 शतक और 37 अर्धशतक शामिल हैं. गेल का उच्चतम स्कोर 333 रन है. गेल वर्तमान समय के सबसे बेहतरीन बल्लेबाजों की लिस्ट में शामिल हैं, लेकिन टेस्ट में वे कभी नंबर एक का पायदान हासिल नहीं कर पाए.

जस्टिन लैंगर - ऑस्ट्रेलियाई टीम के पूर्व दिग्गज सलामी बल्लेबाज और वर्तमान समय में कंगारू राष्ट्रीय टीम के मुख्य कोच जस्टिन लैंगर अपने समय के सबसे बेहतरीन बल्लेबाजों में से एक हैं. ऑस्ट्रेलिया ने ज़्यादातर उन्हें टेस्ट मैचों में ही इस्तेमाल किया, जहां उन्होंने खुद को साबित भी किया. लैंगर ने 105 टेस्ट में 7696 रन बनाए, जिसमें 23 शतक और 30 फिफ्टी वाले स्कोर शामिल हैं. लैंगर का उच्चतम स्कोर 250 रन रहा. उन्हें पूर्व सलामी बल्लेबाज मैथ्यू हेडन के साथ टेस्ट मैच की पारी की शुरुआत करते देखा जाता था, जहां ये दोनों मिलकर अपनी टीम को ज़्यादातर ठोस शुरुआत दिलाते थे. 

Get Daily Updates From CricToday

Subscribe and get the latest Sports News delivered to your inbox.

 IPL 2020 - मयंक अग्रवाल ने एक ही झटके में तोड़ डाला कई भारतीय दिग्गजों का यह रिकॉर्ड

Shadab Ali Updated: 27 September, 2020, 9:25 PM IST

आईपीएल 13 के 9वें मुकाबले में किंग इलेवन पंजाब ने राजस्थान रॉयल्स के सामने 20 ओवरों में पहाड़ जैसा स्कोर खड़ा किया. KXIP ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 2 विकेट के नुकसान पर 223 रन बनाए. पंजाब के लिए दाएं हाथ के सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल ने 50 गेंदों में शानदार 106' रन की पारी खेली, जिसमें उन्होंने 10 चौके और 7 छक्के उड़ाए. मयंक ने कप्तान केएल राहुल (69) के साथ मिलकर पहले विकेट के लिए 183 रन जोड़े.  मयंक अग्रवाल ने रविवार को शारजाह में अपना पहला आईपीएल शतक जमाया। इसके साथ ही वे इस टूर्नामेंट में सबसे तेज शतक लगाने वाले भारतीय बल्लेबाजों की लिस्ट में दूसरे नंबर पर आ गए हैं.

इस दौरान मयंक ने महज 45 गेंद में शतक ठोंक मुरली विजय (46 गेंद में शतक), विराट कोहली (47 गेंद) और वीरेंद्र सहवाग (48 गेंद) का रिकॉर्ड ध्वस्त किया. हालांकि, वे युसूफ पठान (37 गेंद) का रिकॉर्ड नहीं तोड़ पाए. इस फेहरिस्त में मयंक से ऊपर सिर्फ यूसुफ पठान हैं, जिन्होंने 2010 में मुंबई इंडियन्स के खिलाफ खेलते हुए 37 गेंदों में अपना शतक पूरा किया था.

शतकवीरों की लिस्ट इस प्रकार है -  

यूसुफ पठान ने 37 गेंद में अपना शतक पूरा किया.
मयंक अग्रवाल ने 45 गेंद में अपना शतक पूरा किया.
मुरली विजय ने 46 गेंद में अपना शतक पूरा किया.
विराट कोहली ने 47 गेंद में अपना शतक पूरा किया.
वीरेंद्र सहवाग ने 48 गेंद में अपना शतक पूरा किया.

IPL 2020 में गेंदबाजी क्यों नहीं कर रहे हैं हार्दिक पांड्या? ज़हीर खान ने बताई वजह

Shadab Ali Updated: 27 September, 2020, 8:15 PM IST


आईपीएल 13 के पहले मैच में मुंबई इंडियंस को चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ करारी हार झेलनी पड़ी थी, लेकिन रोहित शर्मा की टीम ने अगले मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स को 49 रनों से हराकर आईपीएल 2020 में पहली जीत का स्वाद चखा. ऐसे में टीम के स्टार ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या गेंदबाजी करने में असफल रहे.  अब टीम के मेंटोर ज़हीर खान ने बताया है कि हार्दिक क्यों गेंदबाजी नहीं कर रहे हैं.

टीम इंडिया के पूर्व दिग्गज पेसर ने कहा, "'हम सभी उसके (हार्दिक) गेंदबाजी करने की उम्मीद कर रहे हैं और वह ऐसा खिलाड़ी है जो जब गेंदबाजी कर रहा हो तो किसी भी टीम का संतुलन बदल सकता है और वह इस बात को समझता है, लेकिन हमें उसके शरीर को देखना होगा और हम फिजियो से इसके बारे में परामर्श कर रहे हैं."

उन्होंने आगे कहा, "हम उसे गेंदबाजी करते हुए देखना चाहते हैं, वह भी गेंदबाजी करने का इच्छुक है और वह सचमुच गेंदबाजी करना चाहता है, हमें इंतजार करना होगा और संयम बरतना होगा और उसके शरीर को भी देखना होगा. आखिरकार गेंदबाज को चोटें काफी प्रभावित करती हैं." गौरतलब है कि पिछले साल नवंबर में 26 साल के हार्दिक ने लंदन में सर्जरी कराई थी. 

 IPL 2020 - रोहित शर्मा हैं आईपीएल के सबसे कमज़ोर खिलाड़ी! जानिए कैसे हुआ है यह बड़ा खुलासा?

Shadab Ali Updated: 27 September, 2020, 6:58 PM IST

आईपीएल की सबसे सफल फ्रेंचाइजी मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा ने हाल ही में बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि वे जब टीम की अगुवाई करते हैं तो वे खुद को सबसे कमतर आंकते हैं. मालूम हो कि रोहित शर्मा की अगुवाई में एमआई ने अभी तक 4 आईपीएल टाइटल अपने नाम किए हैं. इतना ही नहीं रोहित शर्मा विश्व के सबसे विस्फोटक बल्लेबाजों में से एक हैं. 

रोहित शर्मा ने कहा, "मैं अपने साथी खिलाड़ियों को वहीं देखना चाहता हूं जहां मैं हूं, जब मैं अपने खिलाड़ियों से बात करता हूं तो मैं सोचता हूं कि मैं टीम का सबसे कम महत्वपूर्ण व्यक्ति हूं. अगर मैं ऐसा सोचता हूं, तो इसके पीछे मेरी यह धारणा काम करती है कि मैं टीम के लिए जरूरी नहीं, इसका मतलब है कि आप सभी जरूरी हैं, क्योंकि अब आप योजना को आगे बढ़ाएंगे और इसलिए जो आप चाहते हैं मैं वही करूंगा."

गौरतलब है कि रोहित शर्मा की टीम ने मौजूदा आईपीएल संस्करण में अभी तक दो मैचों में से एक में जीत और एक में हार का सामना किया है. मुंबई इंडियंस को लीग के पहले मुकाबले में महेंद्र सिंह धोनी वाली चेन्नई सुपर किंग्स ने 5 विकेट से पराजित किया था. वर्तमान में एमआई अंक तालिका में तीसरे स्थान पर मौजूद है. 

अब पाकिस्तानी खिलाड़ी भी आईपीएल में खेलते आएंगे नज़र? पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज का बड़ा ऐलान!

Shadab Ali Updated: 27 September, 2020, 6:14 PM IST

पाकिस्तानी टीम के पूर्व दिग्गज ऑलराउंडर शाहिद अफरीदी ने हाल ही में अपने देश के खिलाड़ियों को लेकर बड़ा बयान दिया है. अफरीदी ने कहा कि पाक क्रिकेटर्स को आईपीएल में खेलने का मौका नहीं मिल रहा है, जबकि यह विश्व टी20 क्रिकेट का सबसे बड़ा ब्रांड है. बता दें कि पाक खिलाड़ियों को आईपीएल के पहले सीजन में खेलने का मौका मिला था. अब अफरीदी को इस लीग में पाकिस्तानी प्लेयर्स के नहीं खेलने का दुख सता रहा है.

दाएं हाथ के पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज ने कहा, "मैंने भारत में क्रिकेट खेलने का जमकर मजा उठाया है. मुझे वहां जो प्यार और सम्मान मिला है मैं उसकी हमेशा सराहना करता हूं. अब सोशल मीडिया के जरिए मैं कुछ कहता हूं तो मुझे भारत से काफी संदेश आते हैं और उनमें से कई लोगों की बातों का जवाब भी देता हूं. भारत में खेलने का मेरा अनुभव काफी अच्छा रहा है और मुझे अफसोस है कि पाकिस्तानी खिलाड़ियों को भी भारत जाकर आईपीएल में खेलना चाहिए."

पाक खिलाड़ियों को भी आईपीएल में मिले मौका - अफरीदी 

उन्होंने आगे कहा, "ये लीग दुनिया का सबसे बड़ा ब्रांड है और बाबर आजम हों या फिर अन्य पाकिस्तानी खिलाड़ी, उनके लिए ये भारत जाने, दवाब में खेलने और बड़े खिलाड़ियों के साथ ड्रेसिंग रूम साझा करने का एक शानदार मौका हो सकता है. मेरा ऐसा मानना है कि पाकिस्तान के खिलाड़ी इस सुनहरे मौके को गंवा रहे हैं."

IPL 2020 - आज RR की टीम में जॉस बटलर की होगी वापसी! क्या गेल भी लौटेंगे KXIP में?

Shadab Ali Updated: 27 September, 2020, 5:30 PM IST

इंडियन प्रीमियर लीग के 13वें संस्करण के 9वें मुकाबले में रविवार को राजस्थान रॉयल्स और किंग्स इलेवन पंजाब के बीच घमासान होगा. KXIP ने अभी तक अपने दो मुकाबलों में से एक में जीत और एक में हार का सामना किया है, जबकि आरआर ने अपने पहले ही मैच में चेन्नई सुपर किंग्स को 16 रन से पटखनी दी थी, जहां पंजाब आज अपने तीसरे मैच में शिरकत करेगी. वहीं, राजस्थान अपना दूसरा मुकाबला खेलेगी. 

मालूम हो कि दूसरे मैच में किंग्स इलेवन पंजाब के कप्तान और सलामी बल्लेबाज केएल राहुल ने आरसीबी के खिलाफ शानदार शतक जड़ा था और टीम बड़े अंतर से मुकाबला जीती थी. 

दोनों टीम्स की संभावित एकादश 

राजस्था रॉयल्स - जॉस बटलर, यशस्वी जायसवाल, स्टीव स्मिथ (कप्तान), संजू सैमसन (विकेटकीपर), रोबिन उथप्पा, रियान पराग, राहुल तेवतिया, टॉम करण, श्रेयस गोपाल, जोफ्रा आर्चर और जयदेव उनादकट.

किंग्स इलेवन पंजाब - केएल राहुल (कप्तान, विकेटकीपर), मयंक अग्रवाल, निकोलस पूरन, करुण नायर, ग्लेन मैक्सवेल, सरफराज खान, जेम्स नीशम, शेल्डन कॉटरेल, रवि बिश्नोई, मोहम्मद शमी और मुरुगन अश्विन. 

आमने-सामने

दोनों टीमों के बीच अभी तक कुल 19 मुकाबले खेले गए हैं, जहां राजस्थान रॉयल्स ने पंजाब से एक मैच ज्यादा जीता है. अब तक खेले गए 19 मुकाबलों में से राजस्थान रॉयल्स 10 और किंग्स इलेवन पंजाब ने 9 मुकाबले जीते हैं.