Crictoday Hindi.

Delhi-NCR के क्रिकेटर्स और स्पोर्ट्समैन के लिए तैयार किए गए 'स्पेशल' मास्क, मिलेगा यह फायदा 

Shadab Ali Updated: 6 August, 2020, 2:29 PM IST

कोराना वायरस ने मौजूदा समय में पूरे विश्व की नाक में दम किया हुआ है. इसकी वजह से खेलों से जुड़ी कई गतिविधियां बंद है. अगर भारत की बात करें तो पिछले पांच महीनों से एक भी अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट मुकाबला नहीं खेला गया है. इतना ही नहीं यहां घरेलू क्रिकेट पर भी फुल स्टॉप लगा हुआ है. यहां तक कि बीसीसीआई ने आईपीएल 2020 को संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में कराने का फैसला किया है. बता दें कि आईपीएल के 13वें संस्करण को विदेश में कराने का निर्णय भारत में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के मद्देनजर लिया गया है. इस कारण बीसीसीआई के अलावा आईसीसी भी क्रिकेट को बहाल करने के लिए फूंक-फूंकर कदम रख रहा है.

वहीं, दूसरी तरफ कोरोना काल में केंद्र और प्रदेश सरकार ने सभी को मास्क लगाकर घर से बाहर निकलने की सलाह दी हुई है. साथ ही बाज़ार में बढ़ती मांग को देखते हुए मास्क का कारोबार अपने चरम पर है. इधर, नोएडा में क्रिकेटर्स और स्पोर्ट्समैन के लिए स्पेशल मास्क तैयार किए जा रहे हैं. इस बात की जानकारी नोएडा स्थित हैरी क्रिकेट अकादमी के संस्थापक गुरप्रीत सिंह हैरी ने दी है. उनके मुताबिक, दिल्ली और दिल्ली एनसीआर में प्लेयर्स को मास्क के प्रति जागरूक किया जा रहा है, जिससे वे कोरोना के बढ़ते वायरस से बचने में कामयाब हो सकें.   

हैरी क्रिकेट अकादमी के फाउंडर ने बताई 'स्पेशल' मास्क पहननी की वजह

गुरप्रीत सिंह हैरी ने बताया कि सुपर फाइन क्वालिटी का यह मास्क शरीर में एलर्जी पैदा नहीं करता है. इसके साथ ही खिलाड़ियों को खेलने के दौरान सांस लेने में परेशानी भी नहीं होगी. अच्छी क्वालिटी का होने की वजह से इस मास्क का 6 माह तक इस्तेमाल किया जा सकता है. साथ ही उन्होंने कहा कि कोरोना संकट की वजह से अभी खेल नहीं हो रहे हैं, लेकिन आने वाले दिनों में भी मास्क की जरूरत पड़ेगी और ऐसे में मास्क की जरूरत और बढ़ जाती है.

यह भी पढ़ें -

2020 की टॉप क्रिकेट बॉल्स

Get Daily Updates From CricToday

Subscribe and get the latest Sports News delivered to your inbox.

देखिए वीडियो - युवराज सिंह ने 2007 में आज ही के दिन अंग्रेजों को कैसे पढ़ाया था 'छक्कों का पाठ'?

Shadab Ali Updated: 19 September, 2020, 2:24 PM IST

टीम इंडिया के पूर्व धाकड़ ऑलराउंडर युवराज सिंह ने पिछले साल अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेकर फैंस को चौंका दिया था, जहां युवराज के रिटायरमेंट की खबर पूरे देश में आग की तरह फैल गई थी. युवी काफी समय से टीम इंडिया से बाहर चल रहे थे. उन्होंने इस दौरान टीम में आने की पूरी कोशिश की थी, लेकिन युवी को जगह नहीं मिल सकी थी. इसके बाद युवराज ने रिटायरमेंट को ही आखिरी रास्ता चुना. बाएं हाथ के इस बल्लेबाज के नाम टी20 अंतर्राष्ट्रीय में सबसे तेज अर्धशतक ठोंकने का रिकॉर्ड भी दर्ज है. उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ 2007 में आज ही के दिन दक्षिण अफ्रीका में आयोजित टी20 विश्व कप में यह कारनामा किया था.

युवराज सिंह ने अंग्रेजी तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड की 6 गेंदों पर लगातार 6 छक्के जड़ने के साथ ही टी20 इंटरनेशनल में 12 गेंदों में अर्धशतक बनाकर विश्व रिकॉर्ड अपने नाम किया था. उन्होंने अपनी इस पारी में 16 गेंदों का सामना करते हुए 58 रन बनाए थे, जिसमें युवराज ने 7 छक्के और 3 चौके जड़े थे. युवी की इस तूफानी इनिंग की बदौलत भारत ने अंग्रेजों को 18 रन से पराजित किया था.  

आप भी देखिए यह वीडियो -

गौरतलब है कि युवराज की गिनती विश्व के सबसे तूफानी बल्लेबाजों में की जाती है. उन्होंने टीम इंडिया का 16 सालों तक प्रतिनिधित्व किया है. उन्होंने 58 टी20 अंतर्राष्ट्रीय मुकाबलों में 1177 रन बनाए हैं, जिसमें युवराज ने 8 अर्धशतक जड़े हैं.

IPL 2020 - CSK बनाम MI के मुकाबले में कौन सी टीम मारेगी बाजी? पूर्व दिग्गज ने किया बड़ा प्रेडिक्शन

Shadab Ali Updated: 19 September, 2020, 12:14 PM IST

इंडियन प्रीमियर लीग के 13वें संस्करण की शुरुआत शनिवार से चेन्नई सुपर किंग्स और मुंबई इंडियंस के बीच मुकाबले से हो जाएगी. इस मुकाबले में किसकी फतह होगी? यह कोई नहीं जानता, लेकिन इससे पहले क्रिकेट के जानकार अपनी-अपनी प्रतिक्रियाएं देने में व्यस्त हैं. हाल ही में टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज और वर्तमान समय में दिग्गज कमेंटेटर आकाश चोपड़ा ने बड़ा प्रेडिक्शन किया है. आकाश चोपड़ा के मुताबिक, इस बार भी मुंबई इंडियंस चेन्नई सुपर किंग्स पर भारी पड़ेगी और उन्हें मुकाबले में पराजित करेगी.

उन्होंने कहा, "सीएसके की टीम को टूर्नामेंट में सेटल होने में कुछ समय लग सकता है, जबकि मुंबई इंडियंस की टीम इस मामले में उनसे बेहतर होगी. बुमराह के सामने सीएसके के बल्लेबाज संघर्ष करते नज़र आ सकते हैं. मुंबई इंडियंस लगातार पांचवीं बार सीएसके के खिलाफ जीत दर्ज कर लेगा." हालांकि इससे पहले ऑस्ट्रलिया दिग्गज ब्रेट ली ने धोनी की चेन्नई सुपर किंग्स का समर्थन किया था.

सीएसके को मिलेगा स्पिनर्स का फायदा - ब्रेट ली

ऑस्ट्रेलियाई टीम के पूर्व दिग्गज तेज गेंदबाज ब्रेट ली ने एमएस धोनी वाली टीम को लेकर बड़ा बयान दिया. ब्रेट ली का मानना है कि इस बार सीएसके आईपीएल 2020 के लिए सबसे प्रबल दावेदार है और इस बार का खिताब अपने नाम करेगी, क्योंकि इस टीम में शानदार स्पिन गेंदबाज हैं. बता दें कि सीएके ने अभी तक तीन बार आईपीएल का खिताब अपने नाम किया है. इस दौरान धोनी ने ही टीम की अगुवाई की है.

IPL 2020 - पूर्व महान गेंदबाज की बड़ी भविष्यवाणी, चेन्नई सुपर किंग्स जीतेगी इस बार का खिताब!

Shadab Ali Updated: 19 September, 2020, 11:29 AM IST

आईपीएल 2020 की शुरुआत शनिवार से मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच मुकाबले से होगी. इससे पहले ऑस्ट्रेलियाई टीम के पूर्व दिग्गज तेज गेंदबाज ब्रेट ली ने एमएस धोनी वाली टीम को लेकर बड़ा बयान दिया है. ब्रेट ली का मानना है कि इस बार सीएसके आईपीएल 2020 के लिए सबसे प्रबल दावेदार है और इस बार का खिताब अपने नाम करेगी, क्योंकि इस टीम में शानदार स्पिन गेंदबाज हैं. बता दें कि सीएके ने अभी तक तीन बार आईपीएल का खिताब अपने नाम किया है. इस दौरान धोनी ने ही टीम की अगुवाई की है.

ली ने कहा, "मैं समझता हूं कि सीएसके काफी मजबूत टीम है. उनके स्पिन गेंदबाजों की बात करें तो वह सबसे शानदार है और टीम को एक बार फिर से चैंपियन बना सकती है. मेरे हिसाब से यह टीम खिताब की सबसे प्रबल दावेदार है."

सीएसके को मिलेगा स्पिनर्स का फायदा - ब्रेट ली

उन्होंने आगे कहा, "टीम में (मिचेल) सेंटनर के होने के चलते रवींद्र जडेजा को बेहतर प्रदर्शन करना होगा ताकि अपनी गेंदबाजी के दम पर वह प्लेइंग इलेवन में बने रहें. सीएसके के पास इस साल स्पिन गेंदबाजी के मामले में काफी विविधता है. उसका हर स्पिनर दूसरे की तुलना में काफी अलग है. ऐसे में मेरा मानना है कि जैसे-जैसे आईपीएल में टीमें आगे बढ़ेंगी सीएसके को इसका फायदा मिलने वाला है."

IPL 2020 - अपने पहले खिताब की तालाश में जुटी RCB ने उठाया बड़ा कदम, क्या विराट के वीर इस बार करेंगे फतह?

Shadab Ali Updated: 19 September, 2020, 11:07 AM IST

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 13वें संस्करण की शुरुआत से पहले रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) ने बड़ा कदम उठाया है. आरसीबी ने अपने चेयरमैन संजीव चूरिवाला को पद से हटा दिया है. अब उनकी जगह डियाजियो इंडिया के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) आनंद कृपाल चेयरमैन पद संभालेंगे. बता दें कि आनंद डियाजियो इंडिया के चेयरमैन के साथ-साथ प्रबंध निदेशक भी हैं.

आनंद कृपाल ने एक प्रेसवार्ता में कहा, "नए सत्र की शुरुआत से विराट कोहली, माइक हेसन और साइमन कैटिच के साथ टीम का नेतृत्व करना एक नया रोमांचक अध्याय बनेगा. मैं आरसीबी और डियाजियो में योगदान के लिए संजीव को शुक्रिया करने के साथ भविष्य की नई भूमिका के लिए शुभकामनाएं देना चाहूंगा."

अपने पहले खिताब की तलाश में होगी कोहली की आर्मी
 
विराट कोहली की कप्तानी वाली रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर आज तक एक भी आईपीएल खिताब नहीं जीत पाई है. हालांकि, इस टीम में हमेशा से ही बड़े खिलाड़ियों की भरमार रही है, लेकिन फिर भी यह टीम कभी खिताबी जीत का स्वाद नहीं चख पाई है. टीम की कमान 2011 से ही किंग कोहली के हाथों में हैं और इस बार भी वे इसी रूप में नज़र आएंगे. अब देखने वाली दिलचस्प बात यह होगी कि क्या कोहली विश्व के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज होने के साथ-साथ इस बार बेहतरीन कप्तान भी साबित हो पाते हैं या नहीं.

IPL 2020 - हरभजन सिंह ने किया हाल ए दिल बयां, बोले इस टीम को जीतना चाहिए 13वें सीजन का खिताब

Shadab Ali Updated: 19 September, 2020, 10:33 AM IST

टीम इंडिया के स्टार ऑफ स्पिनर और चेन्नई सुपर किंग्स टीम का प्रतिनिधित्व करने वाले हरभजन सिंह ने हाल ही में आईपीएल के 13वें संस्करण से अपना नाम वापस लेकर सभी को चौंका दिया था. हरभजन ने अब आईपीएल की शुरुआत से पहले बड़ा बयान दिया है. भज्जी ने कहा कि वे इस बार धोनी वाली टीम को अपनी सेवाएं नहीं दे पाएंगे, जिसका उन्हें दुख है. हरभजन ने माना कि इस साल परिस्थितियां अलग हैं, इसलिए उन्होंने नहीं खेलने का निर्णय लिया. साथ वे चाहते हैं कि सीएसके आईपीएल 2020 का खिताब अपने नाम करे.

बता दें कि हरभजन से पहले सीएसके के दिग्गज बल्लेबाज सुरेश रैना ने निजी कारणों के चलते आईपीएल 2020 में नहीं खेलने का फैसला लिया था. इसके बाद भज्जी के डिसीज़न से सीएसके को डबल झटका लगा था.

सीएसके को मेरी शुभकामनाएं - हरभजन

भज्जी ने कहा, "मैं निश्चित रूप से आईपीएल को मिस करने वाला हूं. मैं पहले संस्करण से ही इस टूर्नामेंट का हिस्सा रहा हूं और मेरा सफ़र शानदार रहा है. इस साल परिस्थितियां बिलकुल अलग थीं, इसलिए मैंने अपना नाम वापस लेने का निर्णय लिया. मैं जानता हूं कि यह मेरे लिए बहुत कठिन था, लेकिन निजी कारणों के चलते मैंने ऐसा किया. मैं सीएसके को शुभकामनाएं देता हूं कि वे इस बार खिताब को अपने नाम करें. मेरे हिसाब से इस टी20 प्रारूप में कोई भी टीम जीत सकती है."