Crictoday Hindi.

प्रोफेशनल फुटबॉल में सबसे ज्यादा गोल दागने वाले शानदार फुटबॉलर 

CT Contributor Updated: 3 July, 2020, 3:56 PM IST

फुटबॉल की दुनिया में फैंस के बीच पिछले कई सालों से सबसे बड़ा सवाल बना हुआ है कि रोनाल्डो और मेसी में कौन सर्वश्रेष्ठ है। हालांकि, इस सवाल का जवाब मिलना फिलहाल उतना आसान नहीं है। इस बीच मेसी के एक कारनामे ने एक बार फिर से ये बहस तेज हो गई हैं कि दोनों खिलाड़ियों मे कौन सर्वश्रेष्ठ है। दरअसल, हाल ही में स्पेनिश लीग ला लीगा में बार्सिलोना और एटलेटिको मैड्रिड के बीच एक रोमांचक मुकाबला खेला गया जो 2-2 की बराबरी पर खत्म हुआ। इस दौरान मेसी उन चोटी के 7 फुटबॉलरों में शामिल हो गए जिन्होंने अपने करियर में 700 या उससे ज्यादा गोल दागे हैं। आइए जानते हैं फुटबॉल के इतिहास में सबसे ज्यादा गोल दागने वाले शीर्ष फुटबॉलरों के बारे में........

लियोनल मेसी (अर्जेंटीना)

अर्जेंटीना के महान फुटबॉलर मेसी ने 1 जुलाई को एटेलिटको मैड्रिड के खिलाफ पेनल्टी से गोल दागा। इसी के साथ मेसी ने अपने करियर में 700 गोल के ऐतिहासिक आंकड़े को छू लिया। 33 साल के मेसी बार्सिलोना और अर्जेंटीना की ओर से सबसे ज्यादा गोल दागने वाले फुटबॉलर हैं। मेसी ने बार्सिलोना की ओर से 724 मैचों में 630 गोल जबकि अपने देश अर्जेंटीना की ओर से 138 मैचों मे 70 गोल दागे हैं। मेसी ने बाएं पैर से 582 जबकि दायें पैर से 92 गोल किए हैं। वहीं, 24 गोल उन्होंने हेडर से अर्जित किए हैं और 2 अन्य तरीके से किए हैं। मेसी पुर्तगाल के रोनाल्डो के बाद 700 गोल दागने वाले दूसरे एक्टिव फुटबॉलर हैं।

क्रिस्टियानो रोनाल्डो (पुर्तगाल)

पुर्तगाल के स्टार फुटबॉलर क्रिस्टियानो रोनाल्डो भले ही मेसी से पहले अपने करियर में 700 गोल का आंकड़ा छूने में सफल रहे लेकिन उन्हें ये कारनामा करने के लिए मेसी से ज्यादा मैच खेलने पड़े। मेसी ने जहां 862 मैचों में 700 गोल दागने का कारनामा किया। वहीं, रोनाल्डो को इसके लिए 974 मैच खेलने पड़े। रोनाल्डो ने क्लब फुटबॉल में 629 गोल किए हैं जबकि अपने देश की तरफ से 99 गोल दागे हैं।

गर्ड म्यूलर (जर्मनी)

फुटबॉल के इतिहास में जर्मनी के दिग्गज फुटबॉलर गर्ड म्यूलर 5वें सबसे ज्यादा गोल करने वाले खिलाड़ी हैं। गर्ड म्यूलर ने 1962 से 1981 के बीच 793 मैचों में 735 गोल दागने का रिकॉर्ड बनाया था। म्यूलर के गोल के दम पर ही जर्मनी साल 1974 में फीफा वर्ल्ड कप के फाइनल में नीदरलैंड को 2-1 से हराने में कामयाब रहा था। यही वजह है कि म्यूलर की गिनती यूरोप ही नहीं बल्कि दुनिया के महान फुटबॉलरों में होती है।

फेरेंस पुस्कस (हंगरी)

हंगरी के फेरेंस पुस्कस के नाम प्रोफेशनल फुटबॉल करियर में 746 गोल दागे थे। ये कारनामा उन्होंने महज 754 मैचों में कर दिखाया था। इस हिसाब से देखें तो उनकी गोल प्रति मैच दर 0.99 है जोकि शानदार है। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि वह कितने खतरनाक स्ट्राईकर थे।

पेले (ब्राजील)

फुटबॉल के ब्लैक डायमंड पेले का नाम भी इस लिस्ट में शुमार हैं जिससे किसी को भी हैरान नहीं हुई होगी क्योंकि ब्राजील के इस खिलाड़ी की गिनती सर्वकालिक महान फुटबॉल खिलाड़ियों में होती है। पेले ने वैसे तो अपने पूरे करियर में अनाधिकारिक मैचों को मिलाकर 1000 से भी ज्यादा गोल दागे लेकिन 831आफिशियल मैचों मे उनके नाम 767 गोल दर्ज हैं।

रोमारियो (ब्राजील)

फुटबॉल जगत में सबसे ज्यादा गोल दागने के मामलें में ब्राजील के महान फुटबॉलर रोमारियो भी शामिल हैं जिन्होंने 994 मैचों में अपने देश और क्लब के लिए कुल मिलाकर 772 गोल किए थे। साल 1985 से लेकर 2009 तक फुटबॉल में सक्रिय रहे रोमारियो 1994 में फीफा वर्ल्ड कप जीतने वाली ब्राजील की टीम का भी हिस्सा रहे।

जोसेफ बीकन (ऑस्ट्रिया)

अब बात हो रही है उस खिलाड़ी की जो फुटबॉल के इतिहास में सबसे ज्यादा गोल दागने में सफल रहा और इस खिलाड़ी का नाम जोसेफ बीकन। ऑस्ट्रिया के महान फुटबॉलर जोसेफ बीकन इकलौते ऐसे फुटबॉलर हैं जिन्होंने प्रोफेशनल फुटबॉल करियर में 800 से ज्यादा गोल दागे हैं। उन्होंने महज 530 मैचों में 805 गोल दागने में कामयाबी हासिल की। उनका प्रति मैच गोल रेट करीब 1.51 है जोकि दर्शाता है कि उनके नाम हर मैच में कम से कम एक गोल जरूर रहा।

Get Daily Updates From CricToday

Subscribe and get the latest Sports News delivered to your inbox.

IPL 2020 - एमएस धोनी ने इस ख़ास मामले में की रैना की बराबरी, अगले मुकाबले में बन जाएंगे 'किंग'

Shadab Ali Updated: 26 September, 2020, 12:10 AM IST

आईपीएल के 13वें संस्करण के सातवें मुकाबले में दिल्ली कैपिटल्स ने चेन्नई सुपर किंग्स को 44 रनों से हराया. चेन्नई सुपर किंग्स की यह तीन मुकाबलों में दूसरी हार है, जबकि दिल्ली कैपिटल्स की दो मैचों में यह दूसरी जीत है. दिल्ली ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवर्स में 3 विकेट के नुकसान पर 175 रन बनाए, जिसके जवाब में चेन्नई सुपर किंग्स पूरे 20 ओवर खेलते हुए 7 विकेट के नुकसान पर 131 रन ही बना पाई. मैच में सबसे बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले दिल्ली कैपिटल्स के पृथ्वी शॉ को मैन ऑफ़ द मैच के पुरस्कार से नवाज़ा गया. 

इस बीच सीएसके के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने ख़ास मामले में दिग्गज बल्लेबाज सुरेश रैना की बराबरी की. धोनी आईपीएल में संयुक्त रूप से सर्वाधिक मैच खेलने वाले खिलाड़ी बने. उन्होंने रैना (193 मैच) की बराबरी की. रैना और धोनी दोनों ही के नाम अब 193-193 आईपीएल मैच हैं. मालूम हो कि दोनों ही अभी तक महज दो ही टीम्स के लिए खेले हैं. रैना ने सीएसके और गुजरात लायंस की ओर से आईपीएल मैच खेले हैं, वहीं धोनी ने सीएसके और राइजिंग पुणे सुपरजायंट्स की ओर से आईपीएल में शिरकत की है. 

धोनी ने जीता फैंस का दिल

दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ मैच में एक बेहद शानदार नज़ारा देखने को मिला, जहां सीएसके के कप्तान एमएस धोनी ने एक बार फिर फैंस का दिल जीत लिया. दरअसल, जब शॉ बल्लेबाजी कर रहे थे तब उनकी आंख में कुछ गिर गया, जिसके बाद धोनी ने दरियादिली दिखाते हुए प्रथ्वी की आंख से तिनका निकालने की कोशिश की. इंडियन प्रीमियर लीग ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से एक खूबसूरत तस्वीर साझा की है, जिसे फैंस काफी पसंद कर रहे हैं.

IPL 2020 - DC के खिलाफ CSK की शर्मनाक हार के बाद फैंस ने धोनी की टीम का बनाया भद्दा मज़ाक

Shadab Ali Updated: 25 September, 2020, 11:28 PM IST

आईपीएल 2020 के 7वें मुकाबले में शुक्रवार को दिल्ली कैपिटल्स ने चेन्नई सुपर किंग्स को 44 रनों से हराकर इस सीज़न लगातार दूसरी जीत दर्ज की. दिल्ली ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवर्स में 3 विकेट के नुकसान पर 175 रन बनाए थे. डीसी के लिए दाएं हाथ के युवा सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ (64) ने शानदार अर्धशतक जड़ा. शॉ के अलावा शिखर धवन (35), ऋषभ पंत (37*) और श्रेयस अय्यर (26) ने भी महत्वपूर्ण पारियां खेलीं. चेन्नई के लिए पियूष चावला ने 2 और सैम करन ने 1 विकेट झटके. 

जवाब में चेन्नई सुपर किंग्स पूरे 20 ओवर खेलते हुए 7 विकेट के नुकसान पर 131 रन बना पाई और दिल्ली की चुनौती के आगे पार नहीं पा सकी. चेन्नई के लिए दाएं हाथ के धाकड़ बल्लेबाज फाफ डू प्लेसी (43) ने सर्वाधिक रन बनाए. फाफ मौजूदा आईपीएल सीजन में लगातार तीन अर्धशतक लगाने से चूक गए. उनके अलावा केदार जाधव (26) ने अहम पारी खेली, लेकिन अपनी टीम को जीत नहीं दिला पाए. दिल्ली के लिए सर्वाधिक विकेट कगिसो रबाडा (3) और एनरिक नोर्खिया (2) ने लिए. 

मुकाबले में सबसे बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले दिल्ली कैपिटल्स के पृथ्वी शॉ को मैन ऑफ़ द मैच के पुरस्कार से नवाज़ा गया. गौरतलब है कि चेन्नई सुपर किंग्स की यह तीन मुकाबलों में दूसरी हार है, जबकि दिल्ली कैपिटल्स की दो मैचों में यह दूसरी जीत है. श्रेयस अय्यर की कप्तानी वाली दिल्ली कैपिटल्स की धमाकेदार जीत के बाद फैंस की सोशल मीडिया पर मजेदार प्रतिक्रियाएं आईं हैं. आइये देखते हैं-  

वीडियो - 39 साल के धोनी ने लपका 'सुपरमैन' कैच, माही पर चढ़ा जवानी वाला रंग!

Shadab Ali Updated: 25 September, 2020, 9:54 PM IST

इंडियन प्रीमियर लीग के 13वें संस्करण के सातवें मुकाबले में चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान और दिग्गज विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी का सुपरमैन वाला अवतार देखने को मिला, जहां धोनी ने विकेट के पीछे दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान श्रेयस अय्यर का ज़बरदस्त कैच पकड़ा. एक समय अच्छी लय में दिख रहे अय्यर ने 22 गेंदों में 26 रन की पारी खेली, जिसमें उन्होंने 1 चौका जड़ा. अय्यर को बाएं हाथ के तेज गेंदबाज सैम करण ने अपना शिकार बनाया.

क्रिकेट के मैदान पर दिग्गज महेंद्र सिंह धोनी का जलवा देखने लायक था, जहां 39 साल के धोनी ने दाईं और डाइव लगाते हुए शानदार कैच लपका. इस दौरान धोनी पर जवानी वाला रंग साफ नज़र आ रहा था.

आप भी देखिए यह वीडियो -

धोनी ने जीता फैंस का दिल

मैच में एक बेहद शानदार नज़ारा देखने को मिला, जहां सीएसके के कप्तान एमएस धोनी ने एक बार फिर फैंस का दिल जीत लिया. दरअसल, जब शॉ बल्लेबाजी कर रहे थे तब उनकी आंख में कुछ गिर गया, जिसके बाद धोनी ने दरियादिली दिखाते हुए प्रथ्वी की आंख से तिनका निकालने की कोशिश की. इंडियन प्रीमियर लीग ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से एक खूबसूरत तस्वीर साझा की है, जिसे फैंस काफी पसंद कर रहे हैं.

IPL 2020 - धोनी ने फिर दिखाई दरियादिली, विपक्षी टीम के बल्लेबाज की ऐसे की मदद कि खूब हो रही तारीफ

Shadab Ali Updated: 25 September, 2020, 9:04 PM IST

शुक्रवार को आईपीएल 2020 के सातवें मुकाबले में दिल्ली कैपिटल्स के सलामी बल्लेबाजों ने अपनी टीम को चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ शानदार शुरुआत दिलाई, जहां शिखर धवन और पृथ्वी शॉ ने पहले विकेट के लिए शानदार 94 रन जोड़े. दिल्ली कैपिटल्स को पहला झटका शिखर धवन (35) के रूप में लगा, जिन्हें स्टार स्पिनर पियूष चावला ने पगबाधा के रूप में पवेलियन की राह दिखाई. इस समय पारी का 11वां ओवर प्रगति पर था. वहीँ, दूसरी तरफ पृथ्वी शॉ (64) ने भी शानदार पारी खेली. उन्हें भी चावला ने अपना शिकार बनाया. 

इस दौरान मैच में एक बेहद शानदार नज़ारा देखने को मिला, जहां सीएसके के कप्तान एमएस धोनी ने एक बार फिर फैंस का दिल जीत लिया. दरअसल, जब शॉ बल्लेबाजी कर रहे थे तब उनकी आंख में कुछ गिर गया, जिसके बाद धोनी ने दरियादिली दिखाते हुए प्रथ्वी की आंख से तिनका निकालने की कोशिश की. 

इंडियन प्रीमियर लीग ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से एक खूबसूरत तस्वीर साझा की है, जिसे फैंस काफी पसंद कर रहे हैं. गौरतलब है कि धोनी मैदान के बाहर और अंदर अपने शानदार अंदाज़ के लिए जाने जाते हैं. धोनी क्रिकेट के मैदान पर कूल अंदाज के लिए जाने जाते हैं. धोनी को फैसले लेने का भी बादशाह माना जाता है. अब धोनी के एक और फैसले की प्रशंसा हो रही है.   

IPL 2020 - DC को हराने के लिए यह रणनीति अपनाने वाले हैं महेंद्र सिंह धोनी?

Shadab Ali Updated: 25 September, 2020, 8:10 PM IST

चेन्नई सुपर किंग्स के मुख्य कोच स्टीफन फ्लेमिंग ने रिपोर्ट्स के मुताबिक, कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को ऊपरी क्रम पर बल्लेबाजी करने की सलाह दी है. बता दें कि मौजूदा समय में धोनी दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ सीएसके की अगुवाई कर रहे है, जहां धोनी टॉप ऑर्डर में बल्लेबाजी करते नज़र आ सकते हैं. चेन्नई की ओपनिंग मुरली विजय और शेन वॉटसन ही करते नजर आएंगे, जबकि मिडिल आर्डर में फाफ डु प्लेसी के साथ एमएस धोनी नज़र आ सकते हैं. वहीँ, दिल्ली कैपिटल्स ने चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ शानदार शुरुआत की. 

फ्लेमिंग ने जताया था भरोसा 

न्यूजीलैंड के दाएं हाथ के पूर्व सलामी बल्लेबाज ने कहा था, "धोनी एक ऐसे खिलाड़ी हैं, जिसने पिछले एक डेढ़ साल में ज्यादा क्रिकेट नहीं खेली है. हर कोई धोनी से उम्मीद करता है कि वह पहले की तरह आते ही वही करना शुरू कर दे जो वह करता था. ऐसा नहीं होता, इसमें थोड़ा समय लगता है."

कीवी टीम के पूर्व कप्तान ने कहा कि धोनी को पुरानी लय में लौटने में अभी थोड़ा समय लगेगा. जानकारी हो कि कैप्टन कूल ने पिछले साल आईसीसी विश्व कप के बाद आईपीएल 2020 में क्रिकेट के मैदान पर वापसी की है. धोनी लगभग पिछले 14 महीनों से क्रिकेट में सक्रिय नहीं थे.  

यह भी पढ़ें 

IPL 2020 - कीवी टीम के पूर्व कप्तान को है यकीन, धोनी 'रेगिस्तान' में रनों का अंबार ज़रूर लगाएंगे