Crictoday Hindi.

ये हैं क्रिकेट के सबसे घटिया कमेंटेटर, जिन्होंने की हैं अजीबोगरीब हरकतें

CT Contributor Updated: 30 July, 2020, 2:26 PM IST

कौन सबसे अच्छे क्रिकेट कमेंटेटर हैं? ये सवाल हो तो बहस में कुछ मजा भी आता है। अगर सवाल ये हो कि कौन सबसे घटिया  क्रिकेट कमेंटेटर तो क्या करें? जब ऐसी लिस्ट में आने वालों के कारनामे देखें तो बस यही नतीजा निकलता है कि कोई किसी से कम नहीं। मजे की बात ये है कि ऐसी चर्चा हर दौर में होती रही है।

जब भारत में क्रिकेट कमेंट्री करते थे तो वे अपने आपको वहां भी 'राजा - महाराजा' समझते थे और एक बार माइक मिल जाए तो छोड़ते ही नहीं थे। अक्सर ही उनकी बातों में 3-4 गेंद का खेल निकल जाता था। राजू भारतन के पास जितनी अच्छी जानकारी क्रिकेट की थी, उससे ज्यादा वे फिल्मों के बारे में जानते थे और वे क्रिकेट मैच को किसी न किसी तरह फिल्मों से जोड़कर कोई न कोई फ़िल्मी किस्सा सुना देते थे।

आज के ज़माने के कमेंटेटर कौन से कम हैं? जब भारत की टीम 2018 की सीरीज के लिए इंग्लैंड गई तो पता नहीं क्या सोचकर ब्रिटेन में ब्रॉडकास्ट अधिकार रखने वाले स्काई टीवी ने हरभजन सिंह को इंग्लिश कमेंट्री के पैनल में ले लिया। भारतीय नज़रिए के लिए एक भारतीय कमेंटेटर लेना गलत नहीं था पर ... उफ़ हरभजन सिंह की  'बेमिसाल' इंग्लिश ने तो कमाल ही कर दिया। अगर स्काई ने उन्हें पूरी सीरीज का पैसा एडवांस न दिया होता तो शायद सीरीज के बीच में ही हटा देते। सबसे कमाल का क्षण  तो वह था जब एजबेस्टन टेस्ट में कैमरे ने ड्रेसिंग रूम में सोते कोच रवि शास्त्री को पकड़ा तो ईयरपीस पर कमेंट्री सुन रहे संजय बांगर को उन्होंने माइक पर ही बोलकर कहा कि शास्त्री को उठा दो, बड़ी बेज्जत्ती हो रही है, जो हरभजन भारत में इंग्लिश नहीं बोलते, इंग्लैंड वालों से इंग्लिश में बात कर रहे थे।

हॉकी के मशहूर कमेंटेटर जसदेव सिंह के बारे में तारीफ में कहते थे कि उनके मुंह में मोटर लगा है। नवजोत सिद्धू क्रिकेट कमेंट्री करते थे तो उनके मुंह में ऐसा मोटर था कि वे चुप ही नहीं होते थे। संजय मांजरेकर क्रिकेट जानते हैं पर वे अपनी बहसबाज़ी और फिजूल के झगड़ों के लिए ज्यादा चर्चा में रहे। साथी कमेंटेटरों से उलझना शायद उनका शौक है।

यही उलझन इंग्लैंड के ज्योफ बायकॉट के साथ है। उन्हें अपनी क्रिकेट कमेंट्री में अपनी क्रिकेट समझ बघारने का बड़ा शौक था। अपने सामने किसी को कुछ नहीं समझते थे। एक बार एक मैच में तेंदुलकर ने 100 बनाए तो कमेंटेटर सुनील गावस्कर ने साथ में बैठे ज्योफ बायकॉट की तरफ मुड़कर कहा कि यॉर्कशायर से सर लेन हटन के बाद सबसे मशहूर बल्लेबाज़ तेंदुलकर हैं ( तेंदुलकर के यॉर्कशायर के लिए खेलने की तरफ इशारा करते हुए) पर ज्योफ बायकॉट तो ये सुनकर भड़क गए क्योंकि हटन और तेंदुलकर के बीच गावस्कर ने उनका नाम गायब कर दिया। ज्योफ बायकॉट तो ये भी भूल गए कि वे लाइव कमेंट्री कर रहे हैं।

वैसे 2019 वर्ल्ड कप के बाद एक ऑनलाइन सर्वे में सबसे घटिया कमेंटेटर का नाम पूछा गया तो सबसे ज्यादा वोट इसा गुहा को मिले थे। ज्यादातर ने लिखा कि उन्हें तो समझ में ही नहीं आया कि क्रिकेट के नाम पर वे बोलती क्या हैं? श्रीलंका के रणजीत फर्नांडो और रसेल आर्नोल्ड भी कम नहीं हैं। घटिया कमेंटेटर की लिस्ट में एक हैरान करने वाला नाम शेन वॉर्न का है। एक तो वे बोलते बड़ा तेज हैं और उस पर अपनी पारिवारिक जिंदगी के किस्से करते रहते हैं. अरे हर वक़्त क्रिकेट सुनने वालों को इन किस्सों से क्या लेना?

Get Daily Updates From CricToday

Subscribe and get the latest Sports News delivered to your inbox.

अफगानिस्तानी प्लेयर मुजीब उर रहमान को हुआ कोरोना, अस्पताल में हुए भर्ती

Staff Writer Updated: 4 December, 2020, 5:48 PM IST

अफगानिस्तानी युवा प्लेयर मुजीब उर रहमान कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। जिसके बाद उन्हें गोल्ड कोस्ट हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। फिलहाल वह डॉक्टर्स की निगरानी में हैं। मुजीब उर रहमान बीबीएल का हिस्सा बनने पहुंचे थे। वह ब्रिस्बेन हीट टीम में शामिल हैं।

बिग बैश लीग में हिस्सा लेने के लिए मुजीब उर रहमान दो हफ्ते पहले अपने बाकी साथियों के साथ पहुंचे थे। उनमें जब शुरुआती लक्षण देखे गए तो उनका कोरोना टेस्ट किया गया और उसमें वह पॉजिटिव पाए गए। हालांकि वह क्वींसलैंड के नियमों के मुताबिक दो हफ्तों के लिए क्वारंटीन में थे।

इस खबर पर क्वींसलैंड क्रिकेट के चीफ टेरी सेवेंसन ने कहा, ''इस युवा खिलाड़ी की सेहत पर हम नजर बनाए हुए हैं। अस्पताल में उनका पूरा ध्यान रखा जा रहा है। इसके अलावा अधिकारियों के साथ भी हम सामंजस्य स्थापित कर रहे हैं जिससे क्रिकेटर्स को किसी भी तरह की परेशानी न हो सके।'' बिग बैश लीग के हेड एलिस्टर डोडसन के मुताबिक, ''इस सीजन में हमारी प्राथमिक जिम्मेदारी खिलाड़ियों की सुरक्षा और स्वास्थ्य है। हम पूरा सहयोग मुजीब उर और ब्रिस्बेन हीट को कर रहे हैं। हमारी ओर से यह भी सुनिश्चित किया जा रहा है कि सभी नियमों का पालन पूरी तरीके से हो।''

बीबीएल में मुजीब उर रहमान का यह तीसरा सीजन हैं। उनकी इकोनामी 18 मैचों में 6.08 प्रतिशत रही। टी-20 लीग में यह शानदार माना जाता है। रहमान के अलावा नेपाल के युवा स्पिनर संदीप लामिछाने भी कोरोना पाजिटिव पाए गए हैं। ऐसा कहा जा रहा है कि वह टीम के साथ क्रिसमस के बाद जुड़ेंगे। इन दोनों खिलाड़ियों के कोरोना पॉजिटिव होने के बाद से अब बिग बैश लीग के आयोजन पर खतरा मंडराना शुरू हो गया है।

सोशल मीडिया पर पिक शेयर करके बुरे फंसे शुबमन गिल, युवराज ने दे डाली ये नसीहत

Staff Writer Updated: 4 December, 2020, 3:48 PM IST

टीम इंडिया के युवा बल्लेबाज शुबमन गिल ने इंटरनेशनल मैच में लंबे समय बात वापसी की है। उन्होंने कंगारू टीम के खिलाफ कैनबरा वनडे में खेलते हुए 39 रन बनाए। 21 वर्षीय बल्लेबाज ने इस मैच की दो तस्वीरें सोशल मीडिया पर साझा की। इनमें से एक तस्वीर में वह कप्तान विराट कोहली के साथ दिखाई दे रहे हैं जबकि दूसरी फोटो में वह टीम के साथी खिलाड़ियों के साथ नजर आ रहे हैं।

शुबमन गिल ने अंतरराष्ट्रीय मुकाबला लगभग एक साल बाद खेला। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे वनडे में टीम इंडिया के लिए ओपनिंग गिल और धवन ने की। इससे पहले उन्होंने पिछले साल फरवरी में न्यूजीलैंड के खिलाफ वेलिंग्टन में वनडे मैच खेला था।

गौरतलब है कि भारत वनडे सीरीज 1-2 से हार गया। हालांकि तीसरे वनडे में जीत हासिल करने बाद शुबमन गिल ने अपनी खुशी व्यक्त करते हुए कुछ फोटोज सोशल मीडिया पर पोस्ट कीं। इन्हीं तस्वीरों में से एक में वह अपनी जेब में हाथ डालकर दिखाई दे रहे हैं।

शुबमन गिल को इसी तस्वीर के लिए भारतीय टीम के पूर्व स्टार ऑलराउंडर युवराज सिंह ने खास सलाह दी। युवी ने कमेंट करते हुए लिखा, ''विराट संग बल्लेबाजी बहुत अच्छी रही। महाराज, जेब से हाथ बाहर निकालो, आप भारत के लिए खेल रहे हैं, किसी क्लब के लिए नहीं।''

 न्यूजीलैंड सरकार ने नहीं दी पाकिस्तानी टीम को प्रैक्टिस करने की अनुमति, 10 खिलाड़ी मिले थे कोरोना पॉजिटिव

Staff Writer Updated: 4 December, 2020, 3:34 PM IST

इन दिनों पाकिस्तान की क्रिकेट टीम न्यूजीलैंड दौरे पर गई हुई है लेकिन वहां पर भी उनके मुश्किलें कम नहीं हो रही हैं। न्यूजीलैंड सरकार ने पाकिस्तानी टीम को प्रैक्टिस करने की अनुमति नहीं दी है। बीते दिनों पाकिस्तान की टीम के 10 खिलाड़ी कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। दरअसल न्यूजीलैंड के स्वास्थ्य विभाग को यह डर लग रहा है कि उनके देश में पाकिस्तान के यह क्रिकेटर्स कोरोना ना फैला दें। वैसे तो पिछले 10 दिनों से पाकिस्तान की क्रिकेट टीम का क्वारंटीन पीरियड जारी है। टीम के 6 खिलाड़ी कोरोना पॉजिटिव एक साथ मिले थे। इसके बाद चार ओर खिलाड़ी इस लिस्ट में पिछले दिनों शामिल हुए।

न्यूजीलैंड की हेल्थ डिपार्टमेंट ने एक बयान जारी करते हुए कहा कि अभी प्रैक्टिस करने की छूट पाकिस्तान क्रिकेट टीम को नहीं दी जाएगी। अधिकारियों का मनाना है कि उन्हें इस बात का डर है कि अगर टीम ने अपनी प्रक्टिस शुरू की तो वह कोरोना का संक्रमण अन्य खिलाड़ियों को भी दे देंगे।

पाकिस्तान के इस दौरे के तय कार्यक्रमों के अनुसार कोरोना टेस्ट के बाद टीम को तीसरे दिन से प्रैक्टिस करने की अनुमति थी। मगर जब से 10 खिलाड़ी कोरोना पॉजिटिव मिले उसके बाद से पाकिस्तानी टीम पिछले 10 दिनों से क्वारंटीन में है।

न्यूजीलैंड की तरफ से पाकिस्तानी टीम को पिछले हफ्ते ही अंतिम चेतावनी मिली थी। जिस होटल में पाकिस्तान की क्रिकेट टीम रुकी हुई है वहां की सीसीटीवी फुटेज न्यूजीलैंड सरकार को मिली। इस वीडियो में उन्होंने देखा कि खुलेआम कोरोना नियमों की धज्जियां पाकिस्तानी खिलाड़ी उड़ा रहे थे। इसके अलावा एक दूसरे के साथ बातें की और खाना-पीना भी शेयर किया।

न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड की इस धमकी पर पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने अपनी नाराजगी जाहिर की थी। शोएब अख्तर ने उलटे न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड को ही सुधरने के लिए कहा था। इसको लेकर अपने यूट्यूब चैनल पर शोएब ने कहा था कि पाकिस्तान कोई क्लब की टीम नहीं है।

 केन विलियमसन ने खेली अपने कैरियर की सर्वश्रेष्ठ पारी, वसीम जाफर ने की तारीफ

Staff Writer Updated: 4 December, 2020, 3:27 PM IST

शुक्रवार को वेस्टइंडीज के खिलाफ हैमिल्टन टेस्ट में न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने पहली इनिंग में दोहरा शतक लगाया और टीम को मजबूत स्थिति में पहुंचाया।

टेस्ट क्रिकेट में विलियमसन ने अपना तीसरा दोहरा शतक केमर रोच की गेंद पर बाउंड्री लगा कर पूरा किया। इस मैच में न्यूजीलैंड कप्तान ने अपने टेस्ट कैरियर का सर्वश्रेष्ठ स्कोर (251) बनाया। इसके बाद वह अल्जारी जोसेफ की गेंद पर रोस्टन चेस के हाथों कैच आउट हो गए। जिसके बाद न्यूजीलैंड ने अपनी पारी की घोषणा 519 रनों पर कर दी।

केन विलियमसन के लिए यह दोहरा शतक इसलिए भी खास है क्योंकि साल 2015 में उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ नाबाद 242 रनों की पारी खेली थी। इंडीज के खिलाफ इस मुकाबले के दूसरे दिन विलियमसन ने अपनी नाबाद 97 रन की पारी को 251 के स्कोर तक पहुंचाया।

भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज वसीम जाफर ने 30 वर्षीय बल्लेबाज की इस पारी की जमकर प्रशंसा सोशल मीडिया पर की और उन्हें 'GOAT' का टैग दिया। वसीम जाफर ने ट्वीट में लिखा, ''बकरियों को चराने के लिए पिच हरी थी, एक बकरी आई और सब खा गई।''

इस मैच में विलियमसन ने चार बल्लेबाजों के साथ बड़ी साझेदारी की। दूसरे विकेट के लिए टॉम लेथम (86) के साथ केन ने 154 रन जोड़े वहीं तीसरे विकेट के लिए 83 रन की पार्टनरशिप रॉस टेलर (38) के साथ की। कप्तान ने 5वें विकेट के लिए 72 रन की साझेदारी टॉम ब्लंडेल (14) के साथ की। इसके अलावा 94 रन 7वें विकेट के लिए काइल जैमीसन (51) के साथ जोड़े।

 ICC के पूर्व अंपायर ने मैक्सवेल के स्विच हिट का किया समर्थन, बोले- यह असंभव है

Staff Writer Updated: 4 December, 2020, 3:19 PM IST

ऑस्ट्रेलिया के स्टार ऑलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल के 'स्विच हिट' शॉट पर कई पूर्व दिग्गज खिलाड़ियों ने अनुचित बताया है। इस शॉट पर जहां पूर्व कप्तान इयान चैपल और पूर्व स्पिनर शेन वॉर्न ने सवाल खड़े किए तो वहीं पूर्व अंपायर साइमन टॉफेल ने मैक्सवेल का बचाव किया। टॉफेल ने कहा कि नियमों के खिलाफ मैक्सवेल का यह स्विच हिट शॉट नहीं है। भारत के खिलाफ बुधवार को कैनबरा वनडे में 32 वर्षीय ऑलराउंडर ने यह शॉट लगाया था। ग्लेन ने इस शॉट पर 100 मीटर का छक्का जड़ा था।

आईसीसी के पूर्व अंपायर साइमन टॉफेल ने ऑस्ट्रेलिया के अखबार सिडनी मॉर्निंग हेरल्ड को दिए इंटरव्यू में ग्लेन मैक्सवेल का बचाव किया। साइमन टॉफेल ने कहा, ''क्रिकेट का खेल कोई साइंस नहीं है ये एक कला है। जब हम बोलते हैं कि इन शॉट्स को बैन किया जाए तो फिर अंपायर इस बात का कैसे फैसला ले पाएगा की यह गलत है। ऐसा नहीं हो सकता। कई फैसले अंपायर को लेने होते हैं जैसे कि फ्रंट फुट, बैक फुट। कोई बल्लेबाज अपना स्टांस या ग्रिप बदल रहा है तो इसपर अंपायर का ध्यान देना असंभव है। हम ऐसे कोई नियम नहीं बना सकते जिनका इस्तेमाल नहीं हो सकता।''

स्विच हिट शॉट लगाते समय गेंदबाज के हाथ से जैसे ही गेंद निकलती है तभी दाएं हाथ से बल्लेबाज अपने बाएं हाथ में बल्ला पकड़ लेता है। मैक्सवेल ने कैनबेरा मैच में यह शॉट खेला उसी वक्त इयान चैपल ने आलोचना करना शुरू कर दी। उस दौरान इयान वाइड वर्ल्ड ऑफ स्पोर्ट्स पर कमेंट्री कर रहे थे और उन्होंने कहा कि इस स्विच हिट को बैन कर देना चाहिए।

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर ने कहा कि ''अगर कोई बल्लेबाज गेंदबाज के हाथ से गेंद छूटते ही अपने दाएं हाथ से बल्ला बाएं हाथ में पकड़ लेता है तो ये स्विच हिट शॉट अनुचित है।'' इतना ही नहीं इस शॉट को शेन वॉर्न ने भी गैरकानूनी बताते हुए बैन करने की मांग की। इसके अलावा ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज ने यह कहा कि ''इस शॉट पर बैन लगाने की कोई जरूरत नहीं है बल्कि गेंदबाज खुद को ओर बेहतर करें।''