Crictoday Hindi.

भारत के क्रिकेट स्टेडियमों का नाम महान खिलाड़ियों के नाम पर क्यों रखा जाना चाहिए?

Shadab Ali Updated: 11 June, 2020, 3:29 PM IST

भारत ने विश्व क्रिकेट को कई दिग्गज और महान खिलाड़ी दिए हैं. इनमें सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़, सुनील गावस्कर, कपिल देव, ज़हीर खान, अनिल कुंबले आदि जैसे खिलाड़ियों के नाम शामिल हैं. इन दिग्गजों ने पूरे विश्व में अपने खेल का डंका बजाया है और आज हम बात करेंगे कि भारत के स्टेडियमों के नाम महान खिलाड़ियों के नाम पर क्यों रखे जाने चाहिएं.

मेरे मन में एक सवाल उमड़ रहा है और मैं उसे आपके साथ साझा करना चाहता हूं, क्या आपको भारत का एक स्टेडियम याद है, जो एक जीवित क्रिकेटर के नाम पर रखा गया है? मेरा यकीन है कि आप इसके लिए गूगल का इस्तेमाल ज़रूर करेंगे और आपको वहां पूर्ण संतुष्टि वाले परिणाम नहीं मिलेंगे... तो चलिए अब शुरू करते हैं -

सीके नायुडू, भारतीय टेस्ट टीम के पहले कप्तान थे. वे भारत के राज्य मध्य प्रदेश के शहर इंदौर में पले बड़े हुए और वहीं अपने परिवार के साथ रहते थे, जब इंदौर में एक स्टेडियम तैयार हो रहा था. तब उस स्टेडियम को सीके नायुडू का नाम देने की चर्चा ज़ोरों पर थी. मगर पंडित जवाहरलाल नेहरु के देहांत के बाद इस स्टेडियम को उनका नाम मिला और कर्नल साहब का स्टेडियम के बाहर एक स्टेच्यू बनवाया गया, जो आज भी मौजूद है. इस मैदान को अब से 50 से पहले बनवाया गया था. इस पर सीके नायुडू ने कहा था, "हमें गर्व है कि इस स्टेडियम का नाम भारत के लाल जवाहरलाल नेहरु के नाम पर रखा गया है."

चलिए एक और उदाहरण लेते हैं, भारत के लिए तीन बार गोल्ड मैडल जीतने वाले बलबीर सिंह के देहांत के बाद हॉकी वाले मोहाली स्टेडियम को बलबीर सिंह स्टेडियम के नाम से जाना जाता है. मेरा मानना है कि एक खिलाड़ी के बाद स्टेडियम का नामकरण उस क्रिकेटर को सम्मानित करने का एकमात्र तरीका नहीं है. मैं समझता हूं कि महान खिलाड़ियों को सम्मान देने के लिए उनके जीवित रहते हुए स्टेडियम का नाम उनके नाम पर देना चाहिए.

क्या हम उन्हें एक छोटा सा रिटर्न गिफ्ट दे सकते हैं?

खिलाड़ी क्रिकेट के फील्ड पर अपने खेल के ज़रिए हमारा मनोरंजन करते हैं
और वे फैंस के होंठों पर ख़ुशी लाते हैं. ऐसे में क्या हम उन्हें एक छोटा सा रिटर्न गिफ्ट दे सकते हैं? यानी जो जीवित महान खिलाड़ी हैं, उनके जीतेजी स्टेडियम का नाम उनके नाम पर देकर हम उन्हें बड़ा सम्मान दे सकते हैं.

महान खिलाड़ियों पर इसका क्या प्रभाव पड़ेगा?

टीम इंडिया के पूर्व महान ऑलराउंडर और कप्तान कपिल देव ने भारत को साल 1983 में आईसीसी विश्व कप का खिताब दिलाकर पहली बार एकदिवसीय क्रिकेट का चैंपियन बनाया था. अगर कपिल के नाम पर स्टेडियम का नाम रखा जाता है तो उन्हें गौरवान्वित महसूस होगा.

भारत के पूर्व महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में शतकों का शतक पूरा किया, सर्वाधिक रन बनाए. इसके अलावा लिटिल मास्टर ने अपने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट करियर में ढेर सारे कीर्तिमानों की झड़ी भी लगाई. सचिन तेंदुलकर विश्व के सबसे बड़े बल्लेबाज हैं. यदि उनके नाम पर किसी स्टेडियम का नामकरण होता है तो  सचिन के साथ-साथ उनके फैंस का भी सीना गर्व से चोड़ा हो जाएगा.

पूर्व कप्तान और दिग्गज विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी ने टीम इंडिया को आईसीसी का हर एक मुख्य खिताब दिलाया. सीमित ओवरों में विश्व के नंबर एक फिनिशर रहे और विकेट के पीछे चीते वाली फुर्ती में नज़र आने वाले धोनी के नाम पर भी स्टेडियम का नामकरण होना चाहिए. इनके अलावा भी कई खिलाड़ी हैं, जिन्हें हम उनके जीवित रहते हुए उन्हें सम्मान दे सकते हैं. हालांकि, दिल्ली के अरुण जेटली स्टेडियम (पुराना नाम - फिरोज़ शाह कोटला) में पूर्व दिग्गज बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग और पूर्व दिग्गज क्रिकेटर बिशन सिंह बेदी के नामों पर स्टैंड्स का नामकरण किया गया है.

Get Daily Updates From CricToday

Subscribe and get the latest Sports News delivered to your inbox.

IPL 2020 - एमएस धोनी ने इस ख़ास मामले में की रैना की बराबरी, अगले मुकाबले में बन जाएंगे 'किंग'

Shadab Ali Updated: 26 September, 2020, 12:10 AM IST

आईपीएल के 13वें संस्करण के सातवें मुकाबले में दिल्ली कैपिटल्स ने चेन्नई सुपर किंग्स को 44 रनों से हराया. चेन्नई सुपर किंग्स की यह तीन मुकाबलों में दूसरी हार है, जबकि दिल्ली कैपिटल्स की दो मैचों में यह दूसरी जीत है. दिल्ली ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवर्स में 3 विकेट के नुकसान पर 175 रन बनाए, जिसके जवाब में चेन्नई सुपर किंग्स पूरे 20 ओवर खेलते हुए 7 विकेट के नुकसान पर 131 रन ही बना पाई. मैच में सबसे बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले दिल्ली कैपिटल्स के पृथ्वी शॉ को मैन ऑफ़ द मैच के पुरस्कार से नवाज़ा गया. 

इस बीच सीएसके के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने ख़ास मामले में दिग्गज बल्लेबाज सुरेश रैना की बराबरी की. धोनी आईपीएल में संयुक्त रूप से सर्वाधिक मैच खेलने वाले खिलाड़ी बने. उन्होंने रैना (193 मैच) की बराबरी की. रैना और धोनी दोनों ही के नाम अब 193-193 आईपीएल मैच हैं. मालूम हो कि दोनों ही अभी तक महज दो ही टीम्स के लिए खेले हैं. रैना ने सीएसके और गुजरात लायंस की ओर से आईपीएल मैच खेले हैं, वहीं धोनी ने सीएसके और राइजिंग पुणे सुपरजायंट्स की ओर से आईपीएल में शिरकत की है. 

धोनी ने जीता फैंस का दिल

दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ मैच में एक बेहद शानदार नज़ारा देखने को मिला, जहां सीएसके के कप्तान एमएस धोनी ने एक बार फिर फैंस का दिल जीत लिया. दरअसल, जब शॉ बल्लेबाजी कर रहे थे तब उनकी आंख में कुछ गिर गया, जिसके बाद धोनी ने दरियादिली दिखाते हुए प्रथ्वी की आंख से तिनका निकालने की कोशिश की. इंडियन प्रीमियर लीग ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से एक खूबसूरत तस्वीर साझा की है, जिसे फैंस काफी पसंद कर रहे हैं.

IPL 2020 - DC के खिलाफ CSK की शर्मनाक हार के बाद फैंस ने धोनी की टीम का बनाया भद्दा मज़ाक

Shadab Ali Updated: 25 September, 2020, 11:28 PM IST

आईपीएल 2020 के 7वें मुकाबले में शुक्रवार को दिल्ली कैपिटल्स ने चेन्नई सुपर किंग्स को 44 रनों से हराकर इस सीज़न लगातार दूसरी जीत दर्ज की. दिल्ली ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवर्स में 3 विकेट के नुकसान पर 175 रन बनाए थे. डीसी के लिए दाएं हाथ के युवा सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ (64) ने शानदार अर्धशतक जड़ा. शॉ के अलावा शिखर धवन (35), ऋषभ पंत (37*) और श्रेयस अय्यर (26) ने भी महत्वपूर्ण पारियां खेलीं. चेन्नई के लिए पियूष चावला ने 2 और सैम करन ने 1 विकेट झटके. 

जवाब में चेन्नई सुपर किंग्स पूरे 20 ओवर खेलते हुए 7 विकेट के नुकसान पर 131 रन बना पाई और दिल्ली की चुनौती के आगे पार नहीं पा सकी. चेन्नई के लिए दाएं हाथ के धाकड़ बल्लेबाज फाफ डू प्लेसी (43) ने सर्वाधिक रन बनाए. फाफ मौजूदा आईपीएल सीजन में लगातार तीन अर्धशतक लगाने से चूक गए. उनके अलावा केदार जाधव (26) ने अहम पारी खेली, लेकिन अपनी टीम को जीत नहीं दिला पाए. दिल्ली के लिए सर्वाधिक विकेट कगिसो रबाडा (3) और एनरिक नोर्खिया (2) ने लिए. 

मुकाबले में सबसे बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले दिल्ली कैपिटल्स के पृथ्वी शॉ को मैन ऑफ़ द मैच के पुरस्कार से नवाज़ा गया. गौरतलब है कि चेन्नई सुपर किंग्स की यह तीन मुकाबलों में दूसरी हार है, जबकि दिल्ली कैपिटल्स की दो मैचों में यह दूसरी जीत है. श्रेयस अय्यर की कप्तानी वाली दिल्ली कैपिटल्स की धमाकेदार जीत के बाद फैंस की सोशल मीडिया पर मजेदार प्रतिक्रियाएं आईं हैं. आइये देखते हैं-  

वीडियो - 39 साल के धोनी ने लपका 'सुपरमैन' कैच, माही पर चढ़ा जवानी वाला रंग!

Shadab Ali Updated: 25 September, 2020, 9:54 PM IST

इंडियन प्रीमियर लीग के 13वें संस्करण के सातवें मुकाबले में चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान और दिग्गज विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी का सुपरमैन वाला अवतार देखने को मिला, जहां धोनी ने विकेट के पीछे दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान श्रेयस अय्यर का ज़बरदस्त कैच पकड़ा. एक समय अच्छी लय में दिख रहे अय्यर ने 22 गेंदों में 26 रन की पारी खेली, जिसमें उन्होंने 1 चौका जड़ा. अय्यर को बाएं हाथ के तेज गेंदबाज सैम करण ने अपना शिकार बनाया.

क्रिकेट के मैदान पर दिग्गज महेंद्र सिंह धोनी का जलवा देखने लायक था, जहां 39 साल के धोनी ने दाईं और डाइव लगाते हुए शानदार कैच लपका. इस दौरान धोनी पर जवानी वाला रंग साफ नज़र आ रहा था.

आप भी देखिए यह वीडियो -

धोनी ने जीता फैंस का दिल

मैच में एक बेहद शानदार नज़ारा देखने को मिला, जहां सीएसके के कप्तान एमएस धोनी ने एक बार फिर फैंस का दिल जीत लिया. दरअसल, जब शॉ बल्लेबाजी कर रहे थे तब उनकी आंख में कुछ गिर गया, जिसके बाद धोनी ने दरियादिली दिखाते हुए प्रथ्वी की आंख से तिनका निकालने की कोशिश की. इंडियन प्रीमियर लीग ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से एक खूबसूरत तस्वीर साझा की है, जिसे फैंस काफी पसंद कर रहे हैं.

IPL 2020 - धोनी ने फिर दिखाई दरियादिली, विपक्षी टीम के बल्लेबाज की ऐसे की मदद कि खूब हो रही तारीफ

Shadab Ali Updated: 25 September, 2020, 9:04 PM IST

शुक्रवार को आईपीएल 2020 के सातवें मुकाबले में दिल्ली कैपिटल्स के सलामी बल्लेबाजों ने अपनी टीम को चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ शानदार शुरुआत दिलाई, जहां शिखर धवन और पृथ्वी शॉ ने पहले विकेट के लिए शानदार 94 रन जोड़े. दिल्ली कैपिटल्स को पहला झटका शिखर धवन (35) के रूप में लगा, जिन्हें स्टार स्पिनर पियूष चावला ने पगबाधा के रूप में पवेलियन की राह दिखाई. इस समय पारी का 11वां ओवर प्रगति पर था. वहीँ, दूसरी तरफ पृथ्वी शॉ (64) ने भी शानदार पारी खेली. उन्हें भी चावला ने अपना शिकार बनाया. 

इस दौरान मैच में एक बेहद शानदार नज़ारा देखने को मिला, जहां सीएसके के कप्तान एमएस धोनी ने एक बार फिर फैंस का दिल जीत लिया. दरअसल, जब शॉ बल्लेबाजी कर रहे थे तब उनकी आंख में कुछ गिर गया, जिसके बाद धोनी ने दरियादिली दिखाते हुए प्रथ्वी की आंख से तिनका निकालने की कोशिश की. 

इंडियन प्रीमियर लीग ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से एक खूबसूरत तस्वीर साझा की है, जिसे फैंस काफी पसंद कर रहे हैं. गौरतलब है कि धोनी मैदान के बाहर और अंदर अपने शानदार अंदाज़ के लिए जाने जाते हैं. धोनी क्रिकेट के मैदान पर कूल अंदाज के लिए जाने जाते हैं. धोनी को फैसले लेने का भी बादशाह माना जाता है. अब धोनी के एक और फैसले की प्रशंसा हो रही है.   

IPL 2020 - DC को हराने के लिए यह रणनीति अपनाने वाले हैं महेंद्र सिंह धोनी?

Shadab Ali Updated: 25 September, 2020, 8:10 PM IST

चेन्नई सुपर किंग्स के मुख्य कोच स्टीफन फ्लेमिंग ने रिपोर्ट्स के मुताबिक, कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को ऊपरी क्रम पर बल्लेबाजी करने की सलाह दी है. बता दें कि मौजूदा समय में धोनी दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ सीएसके की अगुवाई कर रहे है, जहां धोनी टॉप ऑर्डर में बल्लेबाजी करते नज़र आ सकते हैं. चेन्नई की ओपनिंग मुरली विजय और शेन वॉटसन ही करते नजर आएंगे, जबकि मिडिल आर्डर में फाफ डु प्लेसी के साथ एमएस धोनी नज़र आ सकते हैं. वहीँ, दिल्ली कैपिटल्स ने चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ शानदार शुरुआत की. 

फ्लेमिंग ने जताया था भरोसा 

न्यूजीलैंड के दाएं हाथ के पूर्व सलामी बल्लेबाज ने कहा था, "धोनी एक ऐसे खिलाड़ी हैं, जिसने पिछले एक डेढ़ साल में ज्यादा क्रिकेट नहीं खेली है. हर कोई धोनी से उम्मीद करता है कि वह पहले की तरह आते ही वही करना शुरू कर दे जो वह करता था. ऐसा नहीं होता, इसमें थोड़ा समय लगता है."

कीवी टीम के पूर्व कप्तान ने कहा कि धोनी को पुरानी लय में लौटने में अभी थोड़ा समय लगेगा. जानकारी हो कि कैप्टन कूल ने पिछले साल आईसीसी विश्व कप के बाद आईपीएल 2020 में क्रिकेट के मैदान पर वापसी की है. धोनी लगभग पिछले 14 महीनों से क्रिकेट में सक्रिय नहीं थे.  

यह भी पढ़ें 

IPL 2020 - कीवी टीम के पूर्व कप्तान को है यकीन, धोनी 'रेगिस्तान' में रनों का अंबार ज़रूर लगाएंगे